मुसीबत बना ड्राइविंग लाइसेंस का पोर्टल ‘सारथी’ !

इंदौर, प्रदेश में परिवहन विभाग से जुड़े कामों को आसान और सेंट्रलाइज करने के लिए दो साल पहले लागू किए गए सारथी और वाहन पोर्टल अब लोगों के लिए विभाग तक के लिए मुसीबत बन गए हैं। राज्य डाटा सेंटर (एसडीसी) द्वारा तैयार किए गए इस पोर्टल पर सर्वर की समस्या के कारण रोजाना सैकड़ों लोगों के लाइसेंस अटक रहे हैं।

समस्या की वजह

लोगों को लाइसेंस बनवाने, नवीनीकरण करने और जुर्माने संबंधी टिकट बनवाने में दिक्कत आ रही है। प्रदेश में परिवहन विभाग के केंद्रीय सर्वर से कनेक्शन करने के लिए वाहनों से जुड़े प्रमाण पत्रों के लिए वाहन पोर्टल और ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सारथी पोर्टल बनाए गए हैं। लेकिन, प्रदेशभर में इन पोर्टलों पर सिर्फ तीन तकनीकी लोग ही सहायता के लिए मौजूद हैं।

5 हजार से ज्यादा लाइसेंस और लाखों की फीस अटकी

उदाहरण के तौर पर पिछले दो माह में पांच हजार से ज्यादा ड्राइविंग लाइसेंस और लाखों की फीस अटकी पड़ी है। सर्वर डाउन रहने के कारण लोग अपने लाइसेंस नहीं बनवा पा रहे हैं। हालांकि, आरटीओ दफ्तरों में भी समस्या बनी हुई है।

तकनीकी सहायता के लिए सिर्फ तीन लोग

इस समस्या के निदान के लिए मात्र तीन तकनीकी विशेषज्ञ उपलब्ध हैं, जो पूरे प्रदेश में फैले हैं। इससे समस्या का समाधान जल्दी संभव नहीं हो पा रहा है।

मुख्यालय में की शिकायत, जल्द होगा सुधार

परिवहन विभाग ने समस्या के निदान के लिए मुख्यालय में शिकायत की है और जल्द ही सुधार की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *