माहेश्वरी उत्पत्ति दिवस पर निकली भव्य प्रभातफेरी,जय महेश के जयकारों से गूंजा मध्य क्षेत्र |

इंदौर। माहेश्वरी समाज के उत्पत्ति दिवस भगवान महेश नवमी पर आज अलसुबह से ही पूरे मध्य क्षेत्र में जय महेश जय जयकारा गूंजता रहा। रोशंगार के साथ भव्य प्रभातफेरी निकाली गई, जिसमें महेश नवमी के उपलक्ष्य में भगवान महेश के अलौकिक स्वरूपों की झांकी सजाई गई थी। नंदी पर सवार भगवान महेश ने भक्तों को दर्शन दिए।

  • जय महेश के जयकारों से गूंजा मध्य क्षेत्र !
  • नंदी पर सवार भगवान महेश ने दिए भक्तों को दर्शन !
  • महापुरुष के भेष में बच्चे बने आकर्षण का केंद्र !
  • हरिकिशन साबू ने भजनों पर सभी को झुमाया !

महापुरुष के भेष में बच्चे सभी के आकर्षण का केंद्र बने रहे। माहेश्वरी समाज के पुरुष, महिलाएं और बच्चे, प्रभातफेरी में लाल-सफेद ड्रेस में किसी ने बैंड-बाजे और डीजे की धुन पर थिरकते हुए भजनों का आनंद लिया। भगवान महेश के जयकारे लगाते हुए सभी श्रद्धालु शहर के मध्य क्षेत्र से गुजरे और सैंकड़ों की संख्या में लोग इसमें शामिल हुए।

माहेश्वरी उत्पत्ति दिवस पर भव्य प्रभातफेरी का आयोजन |

इस अवसर पर समाज के वरिष्ठजन, युवाओं और बच्चों ने महेश नवमी के अवसर पर भगवान महेश की पूजा-अर्चना की। प्रभातफेरी का शुभारंभ सुबह 6 बजे हुआ, जिसमें हरिकिशन साबू ने भजनों पर सभी को झुमाया।

प्रभातफेरी का मार्ग मालगंज चौराहा, जवाहर मार्ग, सीतलामाता बाजार, इमली बाजार, सनद की फेल, खजुरी बाजार, गोराकुंड चौराहा, एमटीएच कम्पाउंड, बैराठी की गली, तोपखाना, मालवीय नगर होते हुए मोती तवेली पर समाप्त हुआ। जगह-जगह समाज के गणमान्य व्यक्तियों ने प्रभातफेरी का स्वागत किया।

शुक्लराज गार्डन में सम्मान समारोह |

प्रभातफेरी के बाद शुक्लराज गार्डन में आज सायं 7 बजे से सामूहिक भोज और सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले समाज के सदस्यों को सम्मानित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कविता पाटीदार उपस्थित रहेंगी।

कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सभी समाजजन को आमंत्रित किया गया है। इस अवसर पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे, जिसमें नृत्य, संगीत, भजन, और अन्य मनोरंजक गतिविधियां शामिल होंगी।

शाम के इस भव्य कार्यक्रम के अंत में सभी समाजजन सामूहिक रूप से महेश नवमी के पर्व का समापन करेंगे और भगवान महेश की आरती के साथ कार्यक्रम समाप्त होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *