प्रदेश में भारी प्रशासनिक फेरबदल की तैयारी,कई कलेक्टर-एसपी और सम्भागायुक्त बदले जाएंगे |

इंदौर। मध्यप्रदेश में बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की संभावनाएं अंतिम दौर में हैं। मुख्यमंत्री की मंशा के मुताबिक सत्ता और बेहतर प्रशासन देने के लिए इस बार चयनित किए गए अफसरों को प्रशासनिक सेवाओं की प्रभावी भूमिका दी जा रही है। अपने कुछ भरोसेमंद अफसरों के माध्यम से मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अंतिम रूप से चुन लिया है।

कोरोना के गुप्त कामकाज से मुख्यमंत्री संतुष्ट

सूत्रों के मुताबिक इस बार फेरबदल में दर्जन से ज्यादा कलेक्टर, 20 से ज्यादा जिलों के एसपी, और कुछ सम्भागायुक्त बदले जा सकते हैं। इसमें कई जिलों के कलेक्टरों की नई नियुक्ति की जाएगी। वर्तमान में इन पदों पर तैनात अधिकारियों को अन्यत्र भेजा जाएगा।

मंत्रालय में भी नए चेहरे

मुख्यमंत्री बनने के बाद ही डॉक्टर सुदेश यादव ने यह संकेत दिया था कि उनकी सरकार में आयुक्त पद खाली नहीं रहेंगे। वह पहले भी प्रशासनिक सेवा में 2011-12 और 2013 के दौरान प्रशासनिक फेरबदल के मामलों में काफी सक्रिय रहे हैं।

मुख्य पदों पर होंगे बदलाव

सूत्रों के मुताबिक 16 कलेक्टर और लगभग इतनी ही एसपी की प्रशासनिक स्थिति में बदलाव किए जाएंगे और उन्हीं कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों को वरीयता दी जाएगी जो मुख्यमंत्री की मंशा को समझते हैं। इन अधिकारियों की रिपोर्ट के आधार पर ही जिले का प्रशासनिक संचालन किया जाएगा।

नाम पर मुहर लगने की संभावना

सूत्रों के अनुसार यह बदलाव अगले दो से तीन हफ्तों में पूरी तरह से अमल में आ जाएगा और जल्द ही आदेश जारी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *